काम के वक्त आलस से बचने के लिए अपनाइए ये टिप्स

Location

काम के वक्त आलस से बचने के लिए अपनाइए ये टिप्स

काम के वक्त आलस से बचने और ताज़गी बनाए रखने के लिए अपनाइए ये टिप्स

काम के वक्त आलस से बचने के लिए अपनाइए ये टिप्स

आलस तो किसी भी वक्त का अच्छा नहीं होता, लेकिन काम के वक्त आलस के तो और भी ज़्यादा नुकसान हैं। चलिए, आपको बताते हैं कुछ ऐसे टिप्स, जिन्हें अपनाकर आप आलस को दूर भगा सकते हैं।   

  • सबसे पहले तो अपनी नींद का रुटीन ठीक कीजिए, क्योंकि नींद चुस्ती-फुर्ती की सबसे बड़ी दुश्मन है। अपने सोने-जागने का एक फिक्स टाइम बनाए रखिए। फिर भी अगर काम के बीच में नींद आ ही रही है तो कुछ देर की एक हल्की झपकी ले लीजिए। इससे तरो-ताज़ा दिलो-दिमाग़ से आप काम को बेहतर ढंग से पूरा कर सकेंगे।
Credit: CitySpidey
  • काम शुरू करने से पहले या काम करते-करते कभी भी बहुत हैवी डाइट न लें, क्योंकि इसके बाद तो तय है कि आपको सुस्ती, आलस, उबासी, नींद सभी कुछ एक साथ आने वाले हैं। अपनी डाइट हमेशा लाइट ही रखें। यह आपकी सेहत के लिए भी अच्छा है।

Read | कहीं आप अकेले न रह जाएं सोशल मीडिया की बदौलत!

Credit: CitySpidey
  • अगर आपको काम करते हुए काफ़ी ज़्यादा सुस्ती महसूस हो तो ठंडे पानी से चेहरा धोएं। आंखों पर पानी से हल्के-हल्के छींटे मारें और थोड़ी चहलकदमी करें। ये सुस्ती को दूर करने का एक कारगर नुस्ख़ा है।
Credit: CitySpidey
  • न सिर्फ़ काम के दौरान, बल्कि हल्की एक्सरसाइज़ आपको हमेशा चुस्त-दुरुस्त रखेगी, लेकिन यह 15-20 मिनट से ज़्यादा नहीं होनी चाहिए। अगर आपके रुटीन में हैवी वर्कआउट है तो उसे वीकएंड पर ही करें, क्योंकि उसके बाद होने वाली थकान के चलते भी आप सुस्ती महसूस कर सकते हैं। 
Credit: CitySpidey
  • ऐसा म्यूज़िक, जो आपको इतना पसंद है कि उसे सुनते ही आपका मन झूम कर नाचने को कर उठे, उसे सुनना भी सुस्ती दूर करने का एक अच्छा तरीका है, लेकिन वर्कप्लेस पर ऐसा करते हुए हैड फोन इस्तेमाल करना न भूलें।
Credit: CitySpidey
  • सौंफ़ चबाने की आदत डाल लीजिए। इससे न सिर्फ़ आपके मुंह में ताज़गी भरा एहसास बना रहेगा, बल्कि सुस्ती दूर करने में भी यह एक कारगर उपाय है।
Credit: CitySpidey
  • अगर आप कोई भी काम करते हैं तो अपने काम से प्यार करना भी शुरू कीजिए। जिस भी चीज़ से हमें प्यार न हो, उससे हमारा मन उचाट होना, बोरियत होना बड़ी स्वाभाविक सी बात है। हमारा काम सिर्फ़ काम नहीं होता, हमारी पहचान भी होता है। 
Credit: CitySpidey
  • अगर आप छोटे-छोटे कामों को भी इक्ट्ठा करके रखेंगे तो एक समय पर वे आपको बोझ ही लगेंगे और आपको सुस्ती महसूस होगी। इससे अच्छा है कि आप अपने काम को हमेशा समय पर पूरा करें।
Credit: CitySpidey
  • अपने खाने में दही और हरी सब्ज़ियां नियमित रूप से लें। यह स्वाभाविक रूप से खाने के बाद होने वाली सुस्ती से बचाते हैं और ऊर्जा का स्तर बनाए रखते हैं। 
Credit: CitySpidey
  • खाने के बाद देसी गुड़ की एक छोटी सी डली भी आप नियमित रूप से खा सकते हैं। यह खाने के बाद होने वाली सुस्ती से तो बचाता ही है, साथ ही शरीर में होने वाली आयरन की कमी को भी दूर करता है। 
Credit: CitySpidey